Pen card 1lakh : अगर आपकी मां, पत्नी या बहन के पास है पैन कार्ड तो सरकार देगी 1 लाख रुपये! जानिए क्या है पूरा मामला

Pen card 1lakh

Pen card 1lakh : सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म यूट्यूब पर पोस्ट की गई एक वीडियो देखी गई. इस वीडियो में दावा किया जा रहा है कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार देश की सभी पैन कार्ड धारक महिलाओं को 1 लाख रुपये की नकद राशि दे रही है. ‘Yojna 4u’ नाम के YouTube चैनल पर करीब 1 महीने पहले पोस्ट की गई वीडियो को 5 हजार से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं.

हमारे WhatsApp Group मे जुड़े👉 Join Now

हमारे Telegram Group मे जुड़े👉 Join Now

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म यूट्यूब पर पोस्ट की गई एक वीडियो देखी गई. इस वीडियो में दावा किया जा रहा है कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार देश की सभी पैन कार्ड धारक महिलाओं को 1 लाख रुपये की नकद राशि दे रही है. ‘Yojna 4u’ नाम के YouTube चैनल पर करीब 1 महीने पहले पोस्ट की गई वीडियो को 5 हजार से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं. Yojna 4u यूट्यूब चैनल के एडमिन ने इस वीडियो के थंबनेल में लिखा है, ”पत्नी के पास पैन कार्ड है तो खाते में मिलेगी 1 लाख रुपये की नकद राशि, बड़ा मौका करें आवेदन”.

किसी भी टीवी चैनल और अखबार में नहीं आई स्कीम की खबर

 

जिन लोगों ने यूट्यूब पर इस वीडियो को देखा, वे सभी सरकार की इस स्कीम के बारे में जानने के लिए उत्सुक हो गए और इस स्कीम को लेकर चर्चाएं भी तेज हो गईं. लेकिन इस स्कीम को लेकर सबसे बड़ी बात ये है कि देश की किसी भी बड़े मीडिया हाउस ने इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी. आमतौर पर सरकार जब भी किसी स्कीम का ऐलान करती है.. उससे जुड़ी खबरें मीडिया चैनलों, अखबार और डिजिटल मीडिया पर देखने और पढ़ने को मिल ही जाती हैं. लेकिन इस स्कीम के बारे में किसी भी अखबार या टीवी चैनल पर जानकारी नहीं दी गई.

PIB Fact Check की पड़ताल में सामने आई सच्चाई

 

मामले की गंभीरता को देखते हुए PIB Fact Check ने इस स्कीम की जांच-पड़ताल की और सच्चाई को सामने लाया. PIB Fact Check की पड़ताल में मालूम चला कि वीडियो में किया जाने वाला दावा पूरी तरह से फर्जी है. इसका सीधा मतलब ये है कि केंद्र सरकार ने ऐसी कोई भी योजना शुरू नहीं की है जिसके तहत पैन कार्ड धारक महिलाओं को 1 लाख रुपये दिए जा रहे हैं. PIB Fact Check ने अपने ऑफिशियल सोशल मीडिया अकाउंट से एक पोस्ट करते हुए लिखा है कि किसी भी सरकारी स्कीम की प्रमाणिक जानकारी के लिए सिर्फ आधिकारिक स्त्रोतों पर ही भरोसा करें.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *